Physics | प्रतियोगी परीक्षाओ के लिए महत्वपूर्ण | Part 1 – NTPC Railway


परमाणु संरचना 

1- परमाणु नाभिक के अवयव हैं – (प्रोटान ओर न्युट्रान)

2-आणविक सरंचना के बारे मे सही कथन हैं -(प्रोटान तथा न्युट्रान न्यूक्लियस मे होते हैं तथा इलेक्ट्रान न्यूक्लियस के इर्द -गिर्द चक्कर लगाते हैं 

3-इलेक्ट्रान, प्रोट्रान, न्युट्रान तथा फोटोन मे से वह जो अणु (एटम )का भाग नही हैं -(फोटान)

4-खनिज यौगिक, खनिज मिश्रण तथा प्राकृत तत्व मे से एक ही प्रकार का परमाणु मिलता हैं -(प्राकृत तत्व मे )

5-परमाणवीय नाभिक खोजा था – (रदर फोर्ड मे)

6-एटम मे न्युट्रान की खोज की थी -(चैडविक ने )

7-न्युट्रान, प्रोटान, ड्यूट्रान, तथा इलेक्ट्रान मे से एक अणु परमाणु कण नही हैं -(ड्यूट्रान)

8-इलेक्ट्रान -पाजीट्रान, प्रोटान-न्युट्रान, फोटान-इलेक्ट्रान, तथा, न्युट्रान-न्यूट्रियो मे से एक कण -प्रति-कण युग्म हैं                            -(इलेक्ट्रान-पाजीट्रान)

9-अल्फा कण के दो धन आवेश होते हैं इसका द्रव्यमान लगभग बराबर होता हैं -(हीलियम के एक परमाणु के नाभिक के)

10-हीलियम के नाभिक मे होता हैं -(दो प्रोट्रान एवं दो न्युट्रान )

11-अल्फा किरण, बीटा कण तथा गामा किरण मे से negative charge होता हैं – (बीटा कण मे )

12- परमाणु मे कक्षों को भरने का क्रम नियंत्रण होता हैं -(आफबाऊ सिंद्धांत से )

13-रासायनिक तत्व के अणु के सन्दर्भ मे चुम्बकीय क्वांटम संख्या का सबंध हैं -(अभिविन्यास से)

14-जिस तत्व के परमाणु मे दो प्रोटान, दो न्युट्रान,और दो इलेक्ट्रान हो उस तत्व की द्रव्यमान संख्या होती हैं -(4)

15-परमाणु जिनमे प्रोटानो की संख्या सामान, परन्तु न्युट्रानो की संख्या भिन्न रहती हैं 

कहलाते हैं – (समस्थानिक)

16- समस्थानिक होते हैं किसी एक ही तत्व के परमाणु जिनका -(परमाणु भार भिन्न, परन्तु परमाणु क्रमांक सामान होता हैं )

17- किसी परमाणु -नाभिक का आइसोटोप वह नाभिक हैं जिसमे -(प्रोटानो की संख्या वही होती हैं, परन्तु, न्युट्रानो की संख्या भिन्न होती हैं )

18-रेडियो एक्टिविटी मापी जाती हैं -(गाइगर काउंटर से)

19-रेडिओ एक्टिविटी का अविष्कार किया था -(बैकुरेल ने)

रासायनिक एवं भौतिक परिवर्तन विलयन आदि 

1-भौतिक परिवर्तन का उदाहरण हैं- (पानी मे चीनी का घुलना)

2-जल का वाष्प मे परिवर्तन कहलाता हैं – (भौतिक परिवर्तन)

3-रासायनिक परिवर्तन का उदाहरण हैं -(सब्जियों को पकाने पर उनका मुलायम हो जाना)

4-रासायनिक परिवर्तन का उदाहरण हैं -(दुग्ध आस्कंदन)

5-जल अपघटन मे ऊर्जा उत्पन्न होती हैं -(ऊष्मा के रूप मे)

6-पाश्चुराइजेशन एक प्रकिया हैं जिसमे -(दूध को पहले बहुत देर तक गर्म किया जाता हैं और एक निश्चित समय मे अचानक ठंडा कर लिया जाता हैं )

7-पस्तुरीकरण संबधित हैं -(दुग्ध के निर्जमीरकरण से)

8-अशुद्धियों के कारण द्रव का क्वथनांक -(बढ़ जाता हैं)

9-उचाई की जगहों पर पानी 100 सेंटीग्रेट के निचे के तापमान पर उबलता हैं -(क्योंकि वायुमंडलीय दबाव कम हो जाता हैं अत: उबलने का बिंदु नीचे आ जाता हैं )

10-वह कोलायडी तंत्र जो कोहरे मे अभिव्यक्त होता हैं -(गैस मे द्रव)

11-क्रोमेटोग्राफी की तकनीकी का प्रयोग होता हैं -(एक मिश्रण से पदार्थो को अलग करने मे)

12-ठोस कपूर से कपूर वाष्प बनाने की प्रक्रिया को कहते हैं -(ऊर्ध्वपातन)

अकार्बनिक रसायन 

1-तीसरे और चौथे समूह के आक्साइड का सामान्य गुणधर्म हैं -(बेसिक और एसिडिक)

2-भू-पपर्टी मे सर्वाधिक पाया जाने वाला तत्व हैं (आक्सीजन)

3-भू-पपर्टी पर द्रव्यमान प्रतिशत के रूप मे सर्वाधिक मात्रा मे पाया जाता हैं-(आक्सीजन)

4-आक्सीजन के बाद सबसे अधिक उपलब्ध मूल तत्व हैं -(सिलिकॉन)

5-विश्व मे सर्वाधिक पाया जाने वाला तत्व हैं -(हाइड्रोजन)

6-पृथ्वी पर पाए जाते हैं -(100प्रकार के रासायनिक तत्व)

7-रेत, हीरा, संगमरमर तथा शक्कर मे से मूल तत्व हैं -(हीरा)

8-हीरे की खनिजीय बनावट हैं -(कार्बन)

धातुए, खनिज, अयस्क : गुणधर्म, उपयोग 

1-वह इलेक्ट्रानिक संरूपण, जो धातु तत्वों के लिए होती हैं -(2, 8, 8, 2)

2-सोडियम, कैल्शियम, आयरन, तथा पोटैसियम मे से सबसे अधिक क्रियाशील धातु हैं -(पोटैशियम)

3-सर्वाधिक कठोर तत्व हैं -(हीरा)

4-सोना, लोहा, प्लेटिनम तथा टंगस्टन मे से कठोरतम धातु हैं -(प्लेटिनम)

5- कबोरेंडम, टंगस्टन, कास्ट, आयरन, तथा, नाइक्रोम मे से वह पदार्थ जो बहुत कठोर और बहुत तन्य हैं -(नाइक्रोम)

6-सबसे भारी प्राकृतिक तत्व हैं -(यूरेनियम)

7-मोती के मुख्य अवयव हैं-(एरागोनाईट और कांचियोलिन)

8-माणिक्य और नीलम रासायनिक रूप से जाने जाते हैं -(अल्युमिनियम आक्साइड के रूप मे)

9-आजकल सडक की रोशनी मे पीले लैम्प बहुत यातायात मे प्रयुक्त हो रहे हैं इन लैम्प मे उपयोग करते हैं -(सोडियम का)

10-सोडियम वाष्प लैम्प प्राय: सडक प्रकाश के लिए प्रयुक्त होते हैं क्योंकि -(इनका प्रकाश एकवर्णी हैं और पानी की बूंदे से गुजरने पर विभक्त नही होता )

11-प्रतिदीप्ति नली मे सर्वाधिक सामान्यःत प्रयोग होने वाली वस्तु हैं -(पारा वाष्प तथा आर्गन)

12-एल्युमिनियम,सोना,क्रोमोयम तथा जस्ता मे से स्वतन्त्र अवस्था मे पाई जाती हैं -(सोना)

13-सोना को घोला जा सकता हैं -(अम्लराज मे )

14-शुद्ध सोना होता हैं -(24 कैरेट का)

15-चुना पत्थर का रासायनिक नाम हैं -(कैल्शियम कार्बोनेट)

16-प्लास्टर आफ पेरिस रासायनिक रूप से हैं -(कैल्शियम सल्फेट)

17-प्लास्टर आफ पेरिस का सूत्र हैं-(Caso4 1/2H2O)

18-डॉक्टर कलाकार एवं मूर्तिकार कैल्सियम सल्फेट का उपयोग करते हैं जिसका लोकप्रिय नाम हैं -(प्लास्टर ऑफ़ पेरिस)

19-मोनाजाईट अयस्क हैं -(थोरियम का )

20-माईका हैं -(ऊष्मा का चालक तथा विद्युत का कुचालक)

21-लोहा और इस्पात खिलौने, ग्लास और कुम्हरी तथा वैधुत मे से वह उद्योग जिसमे अभ्रक कच्चे माल के रूप मे प्रयुक्त होता हैं -(वैद्युत )

22-पारा, पानी, ईथर, तथा बेंजीन द्रवों मे से ऊष्मा का बहुत अच्छा चालक हैं -(पारा )

23-जल,पारा, बेंजीन, तथा, चमड़ा मे से ऊष्मा का सर्वाधिक उत्तम चालक हैं -(पारा)

24-सीसा, पारा, निकल तथा टीन धातुओं मे से सामान्य ताप पर द्रव हैं -(पारा)

25-पारे का साधारणतया तापमापी यंत्रो मे उपयोग किया जाता हैं क्यों की इसकी विशेषता हैं -(उच्च संचालन शक्ति )

26-आयरन, लेड, मैग्नीशियम, तथा एल्युमिनियम, मे से जल के साथ बिल्कुल अभिक्रिया नही करती हैं -(लेड)

27-तब कोई प्रति किया नही होती हैं जब भाप गुजरती हैं -(तांबे के ऊपर से )

28-लोहा प्राप्त किया जाता हैं -(हेमेटाइट से )

29-एल्युमिनियम बनाने के लिए प्रयोग होता हैं -(बक्साइट का )

30-लोहा, तांबा, एल्युमिनियम, तथा चांदी मे से वह धातु जिसे प्राप्त करने हेतु बक्साइटअयस्क हैं -(एल्युमिनियम)

31-एल्युमिनियम, सोडियम, मैग्नीशियम तथा मैग्नीज मे से जल से हल्का होता हैं -(सोडियम)

32-इस्पात, पारा, तथा, सोना, का उनके घनत्व के अवरोही क्रमानुसार सही अनुक्रम हैं -(सोना >पारा >इस्पात )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *