Objective Chemistry – डिटर्जेण्ट| रसायन विज्ञानं के महत्वपूर्ण विन्दु


डिटर्जेण्ट (Detergent)-

डिटर्जेंट एक विशेष प्रकार के कार्बनिक यौगिक है जिनमे साबुन के सामान ही सफाई का गुण विधमान होता है परन्तु ये स्वय साबुन नहीं होते 

लॉरिल सल्फ्यूरिक एसिड को सोडियम हाइड्राक्साइड के साथ अभिक्रिया कराने पर सोडियम लॉरिल सल्फेट प्राप्त हो जाता है यही डिटर्जेंट (कृत्रिम साबुन) है डिटर्जेंट के निर्माण मे आवश्यक प्रयुक्त सामग्री उच्च अणु भार वाले हाइड्रोकार्बन, सल्फ्यूरिक एसिड तथा सोडियम हाइड्राक्साइड आदि 

बहुलक (Polymer)-

अधिक अणु भार वाला वह यौगिक जो कम अणु भार वाले एक या एक से अधिक प्रकार के बहुत से अणुओ के संयोजन से बनते है जिनके बीच सहसंयोजक बंध होते है बहुलक कहलाते है तथा यह प्रक्रम बहुलीकरण कहलाता है 

रसायन विज्ञानं के महत्वपूर्ण विन्दु –

  • क्षार ऐसा भस्म (base) जो जल मे विलेय होता है 
  • भस्म ऐसा पदार्थ जो अम्ल से क्रिया करके लवण तथा जल बनाता है यह इलेक्ट्रान दाता होता है 
  • एमोफर्स -ऐसा पदार्थ जिसका निश्चित रूप और आकर न हो 
  • उभयधर्मी ऐसा पदार्थ जिसमे अम्ल तथा भस्म दोनों के गुण विधमान रहते है 
  • अमलगम किसी धातु की मरकरी के साथ मिश्रधातु को अमलगम कहते है 
  • एक ग्राम अणु मे उपस्थित अणुओ की संख्या को आवोगाड्रो संख्या कहते है इसका भाग 6.023*10^23 होता है 
  • कार्बोहाइड्रेट -कार्बनिक यौगिक जिनका सामान्य सूत्र cn(H2o)n  होता है ये भोजन का मुख्य अंग होते है 
  • प्रोटीन -नाइट्रोजन यौगिक जो प्राणी तथा वनस्पति अंगों के प्रमुख रचक होते है ये अमीनो अम्ल से बनते है 
  • ऐसा पदार्थ जो किसी रासायनिक क्रिया की दर को परिवर्तित करता है उत्प्रेरक कहलाता है 
  • दो या दो से अधिक तत्वों के निश्चित अनुपात से बना पदार्थ यौगिक कहलाता है 
  • भौतिक परिवर्तन मे कोई रासायनिक क्रिया नहीं होती है अर्थात नया पदार्थ नहीं बनता 
  • तत्वों की आवर्त सारणी (दीर्घ )मे 18 समूह तथा 7 आवर्त है 
  • परमाणु क्रमांक की खोज वैज्ञानिक मोजेल ने की थी परमाणु संख्या किसी तत्व के परमाणु मे उपस्थित प्रोटानो अथवा इलेक्ट्रानो की संख्या के बराबर होती है 
  • मेंडलीफ की आवर्त सारणी की समूह संख्या उस समूह मे उपस्थित तत्वों की संयोजकता को प्रदर्शित करती है 
  • प्रथम ए समूह  के तत्वों को क्षार धातुएं कहते है (Li, Na, K, Rb, Cs, and Fr) 
  • प्रथम बी समूह के तत्वों को सिक्का धातु कहते है (Cu, Ag, Au)
  • मरकरी को क्विक सिल्वर कहा जाता है 
  • फार्मिक अम्ल लाल चीटीयों से प्राप्त किया जाता है 
  • सर्वाधिक वैद्युत ऋणात्मक तत्व फ्लोरीन है 
  • सर्वाधिक वैद्युत धनात्मक तत्व फैन्शियम है 
  • सर्वाधिक विद्युत चालकता वाला तत्व सिल्वर होता है 
  • सर्वाधिक विद्युत चालक अधातु ग्रेफाइट होता है 
  • उच्चतम इलेक्ट्रान बंधुत्ता वाला तत्व क्लोरीन होता है 
  • प्लेटिनम को सफेद स्वर्ण कहते है 
  • भू परत मे सबसे कम मात्रा मे पाया जाने वाला तत्व एस्टैटिन (At) है 
  • भू परत मे सबसे अधिक मात्रा मे पाया जाने वाला तत्व आक्सीजन है वायुमंडल मे सर्वाधिक मात्रा मे पाया जाने वाला तत्व नाइट्रोजन है 
  • पेट्रोल को द्रव स्वर्ण कहा जाता है 
  • 24 कैरेट स्वर्ण शुद्ध स्वर्ण को कहते है 
  • केवल हाइड्रोजन परमाणु ही ऐसा परमाणु है जिसके नाभिक मे न्युट्राननहीं होता है 
  • गोल्ड, प्लेटिनम, मरकरी, तथा सिल्वर उत्कृष्ट धातुए है 
  • लिथियम सबसॅ हल्का धात्विक तत्व है 
  • रेडान गैसीय तत्वों मे सबसे भारी है 
  • एस्टैटिन ठोस अधातुओ मे सबसे भारी तत्व है 
  • सबसे प्रबल अपचायक लिथियम होता है 
  • परमाणु बम नाभिकीय विखण्डन पर आधारित है 
  • हाइड्रोजन बम नाभकीय संलयन पर आधारित है 
  • ठोस कार्बन डाई ऑक्साइड को शुष्क बर्फ कहते है 
  • केवल हाइड्रोजन एक ऐसा तत्व है जिसके सभी तीनो समस्थानिक को अलग अलग नाम दिये गए है (प्रोट्रियम, ड्यूटेरियम, तथा ट्राइट्रियम )
  • अल्फा कण (alpha) हीलियम नाभिक के समकक्ष होता है 
  • बीटा कण (Beta) इलेक्ट्रानो के समकक्ष होता है 
  • हीरा प्रकृति मे पाया जाने वाला सबसे कठोर पदार्थ होता है 
  • पोलोनियम (Po) के सर्वाधिक समस्थानिक (27 समस्थानिक ) होते है 
  • आयरन सल्फाइड (fes2) को झूठा सोना कहा जाता है 
  • कार्बन  ऐसा तत्व है जिसमे सबसे अधिक श्रृंखला की प्रवृति होती है 
  • मार्श गैस का प्रमुख रचक मिथेन (Ch4) है 
  • आक्सी एसीटीलीन ज्वाला धातुओं को काटने तथा वैल्ड करने के काम आती है 
  • पेट्रोल को खनिज तेल रॉक तेल तथा क्रूड तेल भी कहते है 
  • एसीटिक अम्ल के 10% विलियन को सिरका कहते है 
  • शुद्ध सेल्यूलोज से कागज बनता है 
  • फ्रीऑन (cf2cl2) एक अति प्रचलित प्रशीतक है 
  • ग्रेफाइट को पेन्सिल लैड भी कहते है 
  • स्टैनलैस स्टील मे 73% आयरन, 18%क्रोमियम, 1%कार्बन और 8%निकिल होता हैँ 
  • चाय तथा काफी मे कैफीन नामक प्यूरीन पाया जाता हैँ जो स्फूर्ति का अनुभव करता हैँ 
  • दूध मे जल वसा, शर्करा के अतिरिक्त कैफीन नामक फास्फोप्रोटीन भी पाया जाता हैँ 
  • प्रोटीन पाचन का अंतिम उत्पाद अमीनो अम्ल होता हैँ 
  • भारी जल परमाणु भट्टी मे मंदक के रूप मे प्रयुक्त होता हैँ 
  • जब तेलों को निकिल फार्मेट की उपस्थिति मे 150°-180°पर गरम करके हाइड्रोजन गैस प्रवाहित की जाती हैँ तो दानेदार ठोस वनस्पति घी प्राप्त होता है 
  • मिथाइल आइसो सायनेट को (MIC) मिक गैस कहते हैँ यह अत्यंत विषैली गैस हैँ भोपाल गैस कांड (1984)मे  इसी गैस ने हाहाकार मचाया था 
  • शुद्ध जल का ph 7 होता हैँ 
  • 4°C तापमान पर जल का घनत्व अधिकतम होता हैँ 
  • आग बुझाने के लिए कार्बन डाई आक्साइड प्रदुषण का प्रमुख कारण हैँ 
  • ओजोन मण्डल पराबैगनी किरणों को अवशोषित करके पृथवी के जीवो की रक्षा करता हैँ 
  • पेट्रोल की गाड़ी चन्द्रमा पर नहीं चल सकती क्योंकि वहा पर वायुमंडल 
  • नाइट्रस आक्साइड तथा सल्फर डाई आक्साइड पर्यावरण मे अम्ल वर्षा का प्रमुख कारण हैँ 
  • सोने के आभूषण बनाते समय सोने मे तांबा मिलाया जाता हैँ 
  • पानी की स्थाई कठोरता कैल्शियम तथा मैग्नीशियम के बाइकार्बोनेट के कारण होती हैँ 
  • पानी कीं अस्थाई कठोरता को उबालकर दूर किया जा सकता है 
  • नीबू मे टारटरिक अम्ल होता हैइमली मे टारटरिक अम्ल होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *